S M L

एयरलाइन भ्रष्टाचार: बैंकरों को क्लीनचिट देने पर सीबीआई की हुई खिंचाई

सीबीआई ने पांच बैंकों को कथित रूप से 442 करोड़ रुपए का चूना लगाने के मामले में सीएमडी समेत कुछ बैंक अधिकारियों को क्लीन चिट दी थी

Bhasha Updated On: Oct 08, 2017 06:01 PM IST

0
एयरलाइन भ्रष्टाचार: बैंकरों को क्लीनचिट देने पर सीबीआई की हुई खिंचाई

दिल्ली की विशेष अदालत ने पारामाउंट एयरवेज लिमिटेड और ओरिएंटल इंश्योरेंस कंपनी के सीएमडी समेत कुछ बैंक अधिकारियों को क्लीन चिट देने पर सीबीआई की खिंचाई की है. सीबीआई ने पांच बैंकों को कथित रूप से 442 करोड़ रुपए का चूना लगाने के मामले में सीएमडी समेत कुछ बैंक अधिकारियों को क्लीन चिट दी थी.

अदालत ने कहा कि बैंक अधिकारियों के विरुद्ध शुरुआत में पर्याप्त सबूत होने के बावजूद जांच अधिकारी ने उन्हें क्लीनचिट दी.

सीबीआई के आरोपपत्र के अनुसार पारामाउंट एयरवेज प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंध निदेशक एम थैगराजन, ओरिएंटल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड के तत्कालीन सीएमडी एम रामदास और तीन अन्य अधिकारियों पर सार्वजनिक क्षेत्र के पांच बैंकों और बीमा कंपनी को गलत तरीके से पांच करोड़ रुपए का नुकसान पहुंचाने का आरोप है. एयरलाइन की भुगतान त्रुटि बीमा कंपनी पर 442 करोड़ रुपए का दावा किया गया.

विशेष न्यायाधीश कामिनी लाउ ने कहा कि PAPL पर बीमा कंपनी की नवंबर 2010 की जांच रिपोर्ट दर्शाती है कि विभिन्न बैंकों द्वारा कथित रूप से दावा की गई राशि 441.30 करोड़ रुपए है, प्रथम दृष्टया बैंकरों की संलिप्तता जान पड़ती है.

भुगतान में भूल के चलते 442 करोड़ रुपए का दावा उठाना पड़ा

अदालत ने कहा, ‘ये सारे दस्तावेज भी दर्शाते हैं कि भारतीय स्टेट बैंक, इंडियन बैंक, आंध्रा बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, आईडीबीआई बैंक आदि बैंकों के अधिकारियों द्वारा पीएपीएल के वाणिज्यिक लेन-देन में गंभीर खामियां , अनियमितताएं की गई.’

उसने कहा कि सीबीआई अभियोजक और जांच अधिकारी बैंक अधिकारियों के खिलाफ प्रचुर सामग्री होने के बाद भी क्लीनचिट देने के मुद्दे पर उसके सवालों का जवाब नहीं दे पाए. सीबीआई ने जुलाई, 2011 में शिकायत दर्ज की थी.

सीबीआई ने आरोप लगाया है कि आरोपियों ने साजिश रचकर पांच बैंकों एवं ओआईसीएल को नुकसान पहुंचाया और उन्हें बैंकों को पारामाउंट एयरवेज द्वारा भुगतान में भूल के चलते 442 करोड़ रुपए का दावा उठाना पड़ा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi