विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

थिएटर्स-डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज में अटकी कंगना की सिमरन

सिमरन को डिजिटल प्लेटफॉर्म पर जल्दी रिलीज ना करने की गुजारिश कर रहे हैं थिएटर मालिक

Bharti Dubey Updated On: Sep 14, 2017 07:43 PM IST

0
थिएटर्स-डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज में अटकी कंगना की सिमरन

कंगना की फिल्म सिमरन को लेकर मल्टिप्लेक्स मालिकों और मेकर्स के बीच तनातनी चल रही है, कल फिल्म रिलीज होनी है और अभी तक मल्टिप्लेक्सेस में टिकिट्स की ऑनलाइन बुकिंग शुरू नहीं हो सकी है.

मामला फिल्म के डिजिटल राइट्स को लेकर अटका हुआ है. रिलीज के पांच हफ्ते के बाद ही फिल्म को डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज कर दिए जाने से मल्टिप्लेक्स ओनर्स प्रड्यूर्स से नाराज हैं. उनका कहना है कि फिल्म जब तक थिएटर्स में चल रही है तब तक उसे डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज नहीं किया जाना चाहिए.

टी-सीरीज के मालिक भूषण कुमार से हालांकि इस तरह के किसी भी इश्यू से इनकार किया है लेकिन एक सूत्र के मुताबिक अगर सिमरन बॉक्स ऑफिस पर चल जाती है तो इसकी डिजिटल रिलीज दो और हफ्ते के लिए आगे बढ़ाई जा सकती है.

इस बारे में थिएटर मालिकों ने प्रड्यूसर्स को एक नोटिस भी दिया है कि वो नॉन थिएट्रिकल राइट्स के रिलीज को और आगे बढ़ा दें.

फिल्म एंड टीवी प्रड्यूसर गिल्ड के सदस्य कुलमीत मक्कड़ के मुताबिक, सिनेमाघर मालिक लंबे वक्त से इस बात की मांग करते आ रहे हैं कि डिजिटल और टीवी राइट्स को फिल्म रिलीज होने के बाद फिल्म का रेस्पॉन्स देखकर रिलीज किया जाए. वर्ना लोग थिएटर्स आना बंद कर देंगे. वैसे भी इस साल गिनी चुनी फिल्में ही थिएटर्स पर चल सकी हैं और ऐसे में अच्छी फिल्मों का जल्दी टीवी या डिजिटल प्लेटफॉर्म पर आ जाना दर्शकों की घर पर ही फिल्में देखने की उम्मीद को बढ़ा देता है.

इससे कम लोग ही थिएटर्स का रुख करेंगे जिससे सिनेमाचेन वालों को काफी नुक्सान उठाना पड़ रहा है.देश में स्क्रीन्स की संख्या घट रही है जिससे फिल्मों के बिजनेस पर बुरा असर पड़ रहा है. चीन में स्क्रीन्स की संख्या ज्यादा होने की वजह से वहां लोगों में फिल्मों की पहुंच भी ज्यादा है.

इंटरनेशनल मार्कट में भी फिल्में बॉक्स ऑफिस सक्सेस के हिसाब से डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज होती हैं. ट्रेड पंडितों का भी ये मानना है कि बॉक्स ऑफिस पर रिलीज के चार हफ्ते से पहले अगर फिल्मों को डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज किया जाएगा तो फिल्मों के बिजनेस को नुक्सान होगा.

फिल्म ट्रेड एक्पर्ट लिपस्टिक अंडर माय बुर्का भी रिलीज के 3 हफ्ते के बाद डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज कर दी गई थी. जिसकी वजह से कई सिनेमाघर वालों को फिल्म को थिएटर्स से हटाना पड़ा था.

मुकेश भट्ट का मानना है कि रिलीज के छह हफ्ते बाद ही फिल्में डिजिटल प्लेफॉर्म पर आनी चाहिए. थिएटर्स मालिकों और प्रड्यूसर दोनों को इस मामले का हल निकालने के लिए सामने आना चाहिए. तभी इसका कोई सही हल निकल पाएगा. आमोद मेहरा के मुताबिक अभी तक सिर्फ सिंगल स्र्कीन पर भी फिल्म की बुकिंग हो रही है मल्टिप्लेक्सेस में रिलीज पर गतिरोध आज रात तक खत्म होने की उम्मीद है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi