S M L

‘राबता’ पर लगा ग्रहण, कॉपीराइट विवाद में फंसी फिल्म

मगधीरा के प्रोड्यूसर ने किया राबता पर कॉपीराइट एक्ट का केस, काफी मिलती-जुलती है मगधीरा की राबता से कहानी

Hemant R Sharma Hemant R Sharma | Published On: May 25, 2017 06:31 PM IST | Updated On: May 25, 2017 06:31 PM IST

‘राबता’ पर लगा ग्रहण, कॉपीराइट विवाद में फंसी फिल्म

सुशांत सिंह राजपूत और कृति सैनन सरीखी फिल्म ‘राबता’ एक बार फिर सुर्खियों में हैं. रिलीज से पहले ही ये फिल्म कानूनी पचड़े में फंसती नजर आ रही है. ट्रेड एनालिस्ट रमेश बाला के मुताबिक, तमिल फिल्म ‘मगधीरा’ के मेकर्स ने इस फिल्म पर साहित्यिक चोरी का आरोप लगाया है.

‘मगधीरा’ के मेकर्स का आरोप है कि उनकी फिल्म की स्टोरी चुराई गई है और ये कॉपीराइट का उल्लंघन है. अप्रैल में राबता का ट्रेलर रिलीज किया गया था. इस दौरान ‘मगधीरा’ के फैन्स ने दोनों फिल्मों में काफी समनाता होने की बात की थी. यहां तक कि ‘राबता’ में सुशांत सिंह राजपूत और ‘मगधीरा’ में राम चरण के लुक को भी एक जैसा बताया गया था.

रमेश बाला के मुताबिक, ‘हैदराबाद कोर्ट ने इस मामले में एक नोटिस जारी किया है. मामले की अगली सुनवाई 1 जून को होगी. उस दिन ये तय होगा कि 9 जून को ‘राबता’ के रिलीज की अनुमति मिलेगी या नहीं’.

‘मगधीरा’ के प्रोड्यूसर अल्लु अरविंद ने बताया कि फिल्म राबता ने उनकी फिल्म ‘मगधीरा’ की स्टोरी और प्लॉट चुराया है. इस फिल्म में दो प्रेमियों का मिलने वाला कॉन्सेप्ट ऐसा है जिसे पहले भी मगधीरा में देखा जा चुका है. रामचरण और काजल अग्रवाल की ‘मगधीरा’ 2009 में रिलीज हुई थी. ये फिल्म दो प्रेमियों के पुनर्जन्म को लेकर है, जिन्हें तीसरा आकर अलग करता है. प्रेमियों के पुनर्जन्म के साथ वो पुराने दुश्मन भी पैदा करता है और इनकी जिंदगी में आकर उसे बर्बाद करने की कोशिश करता है.

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi