विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

Exclusive : अब बरेली में झुमके नहीं बर्फी भी मिलेंगे - कृति सेनन

कृति सेनन का कहना है कि उनकी फिल्म 'बरेली की बर्फी' रिलीज के बाद बरेली की पहचान बन जाएगी

Sunita Pandey Updated On: Aug 17, 2017 05:36 PM IST

0
Exclusive : अब बरेली में झुमके नहीं बर्फी भी मिलेंगे - कृति सेनन

हिंदी सिनेमा में उत्तर प्रदेश का छोटा शहर बरेली अपने झुमकों के कारण ही जाना जाता रहा है लेकिन अगर कृति सेनन की मानें तो उनकी फिल्म 'बरेली की बर्फी' की रिलीज के बाद दर्शक बरेली को बर्फी के कारण भी जान पाएंगे.

फिल्म 'बरेली की बर्फी' के बारे में कृति का कहना है कि, "यह बहुत ही अलग और मजेदार कहानी है. फिल्म में कई पंच है, जो आपको बहुत हंसाएगे. फिल्म के हर कैरेक्टर को अलग ढंग से पेश किया गया है, जो आप लोगों का काफी मनोरंजन करेंगे. मुझे लगता है इस फिल्म दर्शक जरूर पसंद करेंगे."

अश्विनी अय्यर तिवारी द्वारा निर्देशित फिल्म 'बरेली की बर्फी' में कृति बिट्टी नाम की एक ऐसी लड़की का किरदार निभा रही है जो काफी मुंहफट और बिंदास है. छोटे शहर के अपने कुछ तौर-तरीके होते हैं, जिसे लेकर बिट्टी बेपरवाह है. कृति सेनन के लिए ये किरदार नए किस्म का है.

bareily ki barfi

आखिर इस रोल को निभाने के लिए कृति ने क्या खास तैयारियां की थी.? इसपर कृति कहती हैं कि, "फिल्म की बिट्टी और मैं बिलकुल अलग हैं. बिट्टी का पालन-पोषण यूपी के बिलकुल अलग माहौल में हुआ है. जिसके बारे में मैं जानती भी नहीं, क्योंकि मैं देश के मेट्रो सिटी दिल्ली से हूं और बिट्टी यूपी के छोटे से गांव बरेली से."

कृति के मुताबिक, "वैसे तो निजी जीवन में मैं भी मुंहफट ही हूं, लेकिन बिट्टी का परिवेश अलग होने के कारण ये रोल चुनौतीपूर्ण बन जाता है. बिट्टी अपनी जिंदगी अपने नियम और शर्तों पर जीती है. वह अपने दिल की सुनती है और यही चीजें कहीं-न-कहीं मुझे और बिट्टी को जोड़ती हैं. सोच की इसी समानता के कारण मेरे लिए ये किरदार निभाना आसान रहा. लेकिन इस रोले के लिए उन्हें काफी तैयारी करती पड़ी."

इस फिल्म के लिए कृति की सबसे बड़ी समस्या भाषा की भी थी. इस फिल्म में उनका किरदार अवधी-भोजपुरी मिश्रित भाषा बोलती है, जो मेट्रो सिटी में पली-बढ़ी कृति के लिए किसी टफ टास्क से कम नहीं थी.

Bareily Ki Barfi poster 1

कृति के मुताबिक, "वहां के हाव-भाव और भाषा सिखने के लिए कृति फिल्म की शूटिंग के एक हफ्ते पहले लखनऊ गई थी. वहां कॉलेज की लगभग 20 लड़कियों से मिली और घंटों बैठकर उनसे बातें की. लड़कियों से कृति ने काफी बातें की और वापस लौटकर उन्होंने यूपी की भाषा की प्रेक्टिस शुरू कर दी."

आयुष्मान खुराना और राजकुमार राव के साथ काम करने के अनुभव को लेकर कृति कहती हैं कि, "उनके साथ काम करना बड़ा ही अद्भुत अनुभव रहा मेरे लिए. वो दोनों ही बड़े प्रतिभावान, सहज और सहयोगी कलाकार हैं. हम सेट पर हमेशा अपने रोले में डूबे रहते थे और एक-दूसरे पर प्रतिक्रिया देते रहते. मेरे ख्याल से आपका काम तभी बेहतर होगा जब लोग उसपर वास्तविक प्रतिक्रिया दे. आयुष्मान और राजकुमार के साथ काम करना बहुत ही सहज रहा."

फिल्म 'बरेली की बर्फी' इस शुक्रवार को सिनेमाघरों में आ रही है. फिल्म में कृति के साथ आयुष्मान खुराना और राज कुमार राव अहम् रोल में हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi