विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

‘अटर्ली बटर्ली’ की पहली खेप लेकर रवाना हुआ रेलवे

भारतीय रेल यात्रियों की परेशानी दूर करने के लिए ट्वीटर हैंडल का इस्तेमाल करता है, शायद यह पहला मौका है जब इसका इस्तेमाल किसी कारोबारी प्रस्ताव के लिए हुआ है

Bhasha Updated On: Nov 11, 2017 05:28 PM IST

0
‘अटर्ली बटर्ली’ की पहली खेप लेकर रवाना हुआ रेलवे

डेयरी क्षेत्र की दिग्गज कंपनी अमूल ने देश के विभिन्न हिस्सों में सामान पहुंचाने के लिए रेलवे की परिवहन सेवाओं का इस्तेमाल शुरू किया है. इसके तहत रेलवे के रेफ्रीजिरेटिड पार्सल डिब्बे में मक्खन की पहली खेप भेजी गई है.

दरअसल, डेयरी क्षेत्र की दिग्गज कंपनी अमूल ने करीब महीने भर पहले भारतीय रेलवे को ट्विटर पर देश के विभिन्न हिस्सों में माल पहुंचाने के लिए रेलवे की सेवाओं का इस्तेमाल करने का प्रस्ताव भेजा था.

इस प्रस्ताव में अमूल ने पूछा था कि वह देशभर में मक्खन पहुंचाने के लिए रेलवे के रेफ्रीजिरेटिड पार्सल डिब्बे का इस्तेमाल करना चाहता है.

अमूल ने भारतीय रेल का किया शुक्रिया

अमूल ने अपने ट्वीटर में लिखा, '17 मीट्रिक टन अमूल मक्खन का पहला रेफ्रीजिरेटिड पार्सल डिब्बे पालनपुर से दिल्ली के लिए हमारी दूध रेलगाड़ी के साथ रवाना कर दिया गया है. इसके लिए अमूल ने त्वरित कदम उठाने के वास्ते भारतीय रेलवे का धन्यवाद किया.'

अमूल ने 23 सितंबर को भारतीय रेलवे को भेजे अपने कारोबारी प्रस्ताव में पूछा था- 'वह भारत में ‘अमूल मक्खन’ की सप्लाई के लिए रेफ्रीजिरेटिड पार्सल वैन का इस्तेमाल करने का इच्छुक है. सलाह दें.'

इस पर भारतीय रेलवे ने ट्वीटर पर तुरंत कंपनी के ही प्रचलित टैग लाइन का इस्तेमाल करते हुये जवाब दिया- ‘भारतीय रेलवे को ‘अटर्ली बटर्ली’ दि टेस्ट ऑफ इंडिया को हर भारतीय तक पहुंचाने में प्रसन्नता होगी.’

भारतीय रेल आमतौर पर यात्रियों की परेशानी दूर करने के लिए ट्वीटर हैंडल का इस्तेमाल करता है. लेकिन शायद यह पहला मौका है जब इसका इस्तेमाल किसी कारोबारी प्रस्ताव के लिए हुआ है.

भारतीय रेलवे ने कुछ साल पहले खराब होने वाले सामान जैसे- फल, सब्जियों, मांस और चॉकलेट के सुविधाजनक परिवहन के लिए रेफ्रीजिरेटिड पार्सल डिब्बे की शुरुआत की थी. हालांकि, ये सेवाएं कुछ विशिष्ट मार्ग पर ही उपलब्ध हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi