विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

आर्थिक मोर्चे पर भारत को बड़ी कामयाबी, 130 से 100 हुई रैंकिंग

वर्ल्ड बैंक द्वारा जारी सालानी रिपोर्ट में इस साल सबसे ज्यादा सुधार करने वाले 10 देशों की सूची में भारत का नाम शामिल है

FP Staff Updated On: Oct 31, 2017 09:02 PM IST

0
आर्थिक मोर्चे पर भारत को बड़ी कामयाबी, 130 से 100 हुई रैंकिंग

कारोबार करने के लिहाज से भारत दुनिया की सौवां सबसे अच्छी जगह है. वर्ल्ड बैंक की मंगलवार को जारी हुई रिपोर्ट में भारत की रैंकिंग में 30 पायदान का उछाल आया है. विश्व के 190 देशों में भारत का स्थान 100वां है. इस सूची में पिछले दो वर्षों से भारत 130वें नंबर पर था.

वर्ल्ड बैंक की रैंकिंग में भारत की बड़ी छलांग, इज ऑफ डूइंग बिजनेस में 100 हुई रैंकिंग

रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि इस साल सबसे ज्यादा सुधार करने वाले 10 देशों में भारत का नाम भी शामिल है.

वर्ल्ड बैंक के साउथ एशिया के उपाध्यक्ष डिक्सन ने कहा कि जारी रिपोर्ट संकेत देता है कि भारत के दरवाजे कारोबार के लिए खुले हैं, जैसा कि यह पिछले कई दशकों से रहा है, यह अब विश्व स्तर पर व्यापार करने के लिए पसंदीदा स्थान के रूप में कड़ी टक्कर दे रहा है.

डिक्सन ने कहा, 'व्यापार शुरू करना अब आसान और जल्दी है'. उन्होंने कहा कि भारत ने क्रेडिट सिस्टम को मजबूत बनाया है और निर्माण परमिट हासिल करना भी आसान किया है.

आने वाले वर्षों में स्थिति में इसी तरह का सुधार दिखेगा

वर्ल्ड बैंक की 'ईज ऑफ डूइंग बिजनेस' रिपोर्ट जारी होने के बाद केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भारत की इस उपलब्धि को ऐतिहासिक बताया. उन्होंने कहा कि इस समय भारत में कुछ और सुधार हो रहे हैं, इसलिए माना जा सकता है कि आने वाले वर्षों में स्थिति में इसी तरह का सुधार दिखेगा.

उन्होंने कहा कि वर्ल्ड बैंक की रिपोर्ट में उन्हीं मसलों को शामिल किया जाता है, जिस पर 1 जून तक न सिर्फ फैसला हो जाता है बल्कि अर्थव्यवस्व्था में उसका असर भी दिखने लगता है.

वर्ल्ड बैंक ने इस वर्ष की रिपोर्ट में भारत का विशेष रूप से जिक्र किया है कि यहां महत्वपूर्ण स्ट्रक्चरल रिफार्म हुए हैं. उन्होंने कहा कि इस रिपोर्ट में तो 1 जून से पहले हुए काम को शामिल करने की की परंपरा है. उनका मूल्यांकन इतना कठिन है कि सिर्फ सुधार ही नहीं देखते बल्कि उसका असर भी देखते हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi