उत्तर कोरिया ने ऑनलाइन की दुनिया में रखा कदम

डॉक्टरों से लाइव वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए परामर्श लिया जा सकता है. लोग अपने स्मार्टफोन पर एक-दूसरे को संदेश भेज सकते हैं

Bhasha

इंटरनेट से दूरी बनाए रखने वाले उत्तर कोरिया ने आखिरकार ऑनलाइन दुनिया में कदम रख दिया है.

डॉक्टरों से लाइव वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए परामर्श लिया जा सकता है. लोग अपने स्मार्टफोन पर एक-दूसरे को संदेश भेज सकते हैं. ई-शॉपिंग और ऑनलाइन बैंकिंग की सुविधा भी शुरू की गई है.


यह सब कुछ कंप्यूटर के निजी नेटवर्क इंट्रानेट पर किया गया है. शायद पूर्वी अफ्रीकी देश इरित्रिया को छोड़कर उत्तर कोरिया पृथ्वी पर अब तक का सबसे कम इंटरनेट अनुकूल देश है. वहां पर ज्यादातर लोगों के लिए वैश्विक इंटरनेट तक पहुंच बनाना अकल्पनीय है और वहां बमुश्किल किसी के पास निजी कंप्यूटर या ईमेल एड्रेस है. किम जोंग उन देश के पहले नेता हैं जिन्होंने देश में इंटरनेट का इस्तेमाल शुरू किया है.

उत्तर कोरिया में केमिट्री से पोस्ट ग्रेजुएट करने वाले पाक सुंग जिन की माने तो उत्तर कोरिया में जरूरत के मुताबिक इंटरनेट का इस्तेमाल किया जा सकता है. हालांकि इस पर पूरी बारीकी के साथ निगरानी की जाती है. उन्होंने बताया कि अगर इंटरनेट की जरूरत होती है, तो वहां की मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी के अधिकारियों के जरिए कर सकते हैं. हालांकि इसकी पूरी निगरानी की जाएगी.