हिमाचल प्रदेश चुनाव 2017: 74 फीसदी मतदान के साथ वोटिंग समाप्त

चुनाव आयोग ने जानकारी दी है कि शाम पांच बजे तक राज्य में करीब 74 फीसदी वोटिंग दर्ज की गई है

FP Staff

हिमाचल प्रदेश विधानसभा की 68 सीटों के लिए राज्यभर में करीब 74 प्रतिशत वोटिंग हुई. चुनाव आयोग ने जानकारी दी है कि शाम पांच बजे तक राज्य में करीब 74 फीसदी वोटिंग दर्ज की गई है.  चुनाव राज्यभर में बेहद शांति पूर्ण ढंग से पूरे हुए.

सुबह वोटिंग की शुरुआत के बाद दोपहर 1 बजे तक मतदान की रफ्तार थोड़ी धीमी रही लेकिन एक बजे के बाद वोटिंग में रफ्तार आई. दोपहर दो बजे तक 54.09 प्रतिशत वोटिंग दर्ज की गई जो शाम तक 74 प्रतिशत रिकॉर्ड की गई.


इन चुनावों में बीजेपी वीरभद्र सिंह नीत कांग्रेस सरकार को भ्रष्टाचार के मुद्दे पर राज्य की सत्ता से हटाने का प्रयास कर रही है. वहीं बीजपी इसके साथ ही नोटबंदी और जीएसटी को लेकर प्रतिद्वंद्वी दलों के हमलों से बचाव का प्रयास भी कर रही है. 68 सदस्यीय हिमाचल प्रदेश विधानसभा के लिए मैदान में उतरे 337 उम्मीदवारों में 60 निवर्तमान विधायक शामिल हैं. हिमाचल प्रदेश उन कुछ राज्यों में से एक है जहां कांग्रेस का शासन है.

हिमाचल प्रदेश के साथ ही भाजपा शासित गुजरात विधानसभा चुनाव के नतीजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता के रुख का एक संकेत होंगे.

मतदान के लिए राज्य में 7525 मतदान बूथ की स्थापना की गई थी और चुनाव ड्यूटी में 37605 कर्मियों की तैनाती की गई. राज्य में मतदाताओं की संख्या 50,25,941 है.

विधानसभा चुनाव के लिए मतदान सुबह आठ बजे शुरू हुआ था और शाम पांच बजे समाप्त हो गया.

हिमाचल में वोटिंग के अजब-गजब रंग दिखे. कहीं सौ साल से ज्यादा बुजुर्ग ने वोटा डाला तो कहीं दूल्हे ने फेरों से पहले पोलिंग बूथ के फेरे लिये. मनाली के बाशिंग गांव में ऐन शादी से पहले दूल्हे ने अपना वोट डाला.

भ्रष्टाचार को मुख्य मुद्दा बनाकर प्रचार अभियान में बीजेपी ने मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह पर जमकर निशाना साधा जबकि कांग्रेस ने जीएसटी और नोटबंदी को लेकर बीजेपी पर प्रहार किया .