हिमाचल चुनाव: झंडूता से सिटिंग विधायक का टिकट काटना बीजेपी को महंगा न पड़े

एस सी और एस टी के दबदबे वाली इस विधानसभा में बीजेपी को अपने घर से ही चुनौती मिल सकती है

FP Staff

झंडूता हिमाचल प्रदेश की 45 नंबर की विधान सभा है. बिलासपुर जिले की इस सीट को अनुसूचित जाति (sc) के लिए आरक्षित किया गया है. झंडूता बाबा बालकराम के तीर्थ के तौर पर भी प्रसिद्ध है. बिलासपुर जिले के इस कस्बे में साल भर श्रद्धालु आते रहते हैं.

67,186 वोटर्स वाली ये सीट 2008 परिसीमन के बाद अस्तित्व में आई थी. उससे पहले ये गेहड़वी विधानसभा के तौर पर जाना जाता था. गोविंदसागर झील से सटे इस इलाके में 2012 में बीजेपी के रिखि राम कौंडल विधायक चुने गए थे.


अनुसूचित जाति और जनजाति के दबदबे वाली झंडूता विधानसभा में इस बार कौंडल का

टिकट काट कर रिटायर्ड आईएस जे आर कटवाल को दे दिया गया है. ऐसे में इसका चुनाव परिणाम पर कुछ असर दिख सकता है.